यजुर्वेद भाग-3



यज्ञ के फलस्वरूप हमारे निमित चार संख्यक स्तोम, आठ संख्यक, बारह संख्यक, सोलह संख्यक,
बीस संख्यक, चौबीस संख्यक, अट्ठाइस संख्यक, बत्तीस संख्यक, छत्तीस संख्यक, चालीस संख्यक,
चौवालीस संख्यक और अड़तालीस संख्यक स्तोम सहायक होकर अभीष्ट प्राप्त कराएँ।

Write Your Comments Here:





27 in 0.013250112533569