सद्वाक्य

February 1990

Read Scan Version
<<   |   <   | |   >   |   >>

झाड़ू से घर बुहारा जाता है और प्राश्चित से पापों कि निवृत्ति होती है।

<<   |   <   | |   >   |   >>

Write Your Comments Here:


Page Titles